Data Structure Definition type operation and classification

इस मॉडर्न techno दुनिया मे Data एवं information हमारी लाइफ का बहुत जरुरी element हो गया है एवं इसको अच्छी तरह से organize करते हुए रखने के लिए बहुत अलग अलग तरह के implementation किये गए है| Data तो केवल fact and figures का collection है ya आप कह सकते है की डाटा तो केवल एक format मे values या set of values है|

एक डाटा item single set of values को कहते है| उसके बाद डाटा items को आगे कई sub items मे categorized किया जा सकता है जैसे की एक student का नाम तीन sub items मे divide किया जा सकता है -first name, middle name and last name लेकिन student को जो ID assign होगा उसकी केवल एक ही value होगी और उसको single item consider किया जायेगा |

डाटा स्ट्रक्चर क्या है : Data Structure, डाटा को systematic तरीके से organize व् collect करने का एक तरीका है जिसमे की किसी भी तरह का operation (जैसे insertion, deletion) easily एवं effectively perform किया जा सके| Data को अच्छी तरह से organize करने से memory space को अच्छी तरह से utilize एवं time की बचत भी की जा सकती है जिससे अलग अलग task की complexities दूर होती है|

यह इस तरह designed and implemented किया होना चाहिए की यह complexity को कम करते हुए efficiency को बढ़ाये| computer Data structure की सबसे छोटी or simple definition है की जो भी data को systematic way से store कर सकता है उसे डाटा स्ट्रक्चर कहते है|

Basic Operations : डाटा स्ट्रक्चर के data पर बहुत सारे अलग अलग operations perform किये जाते है | Data पर किये जा सकने वाले कुछ important operations है –

  • Searching
  • Insertion
  • Deletion
  • Sorting
  • Traversing
  • Merging

What is Data Structure

Categories of Data Structure : Data structure को दो major category मे divide किया गया है –

  • Primitive
  • Non-primitive data structures

Primitive Data Structures (Built in data type): Primitive Data Structures basic data structures होते है जो की directly machine instructions पर operate होते है। ये अलग अलग computers पर अलग अलग तरह से represent होते है। Integer, Float, character constants, string constants and pointers इस category मे आते है। इनको built-in data टाइप्स भी कहते है क्योकि ये वो डाटा टाइप है जिस पर language का built-in support होता है।

Non-primitive Data Structures (Derived data type) : Non-primitive data structures जयदा complicated data structures होते है एवं and इनको primitive data structures से ही लिया गया है। Array, Lists, Files, Stacks, Queues, Graphs and trees इस category मे आते है । इनको derived data टाइप्स भी कहते है क्योकि यह independently बिल्ट इन डाटा टाइप को use करते हुए इम्प्लीमेंट (derive) किये जा सकते है। यह data types, built-in data types और उनसे रिलेटेड ऑपरेशन्स के कॉम्बिनेशन से बनते है|

Non-primitive data structure को दो main category मे divide किया जा सकता है –

  • Linear Data Structure 
  • Non-linear Data Structure

Linear Data Structure : किसी भी डाटा स्ट्रक्चर को linear कहा जायेगा अगर इसके elements एक specific order को follow करते हुए combine होते है| Examples of linear data structures are – 

  • Array
  • Queues
  • Stacks
  • Linked List

Non linear Data Structure : यह डाटा स्ट्रक्चर ज्यादातर उस data को represent करते है जहाँ पर अलग अलग elements के बिच hierarchical relationship होती है | Examples of Non Linear Data Structures – 

  • Graphs
  • family of trees and
  • table of contents

About the Author: virag

Hello!!!... दोस्तों, आप सभी का इस ब्लॉग पर स्वागत है मेरा नाम विराग सम्बरिया है, और मैं पेशे से एक Computer Teacher हूँ मैं सन २०१० से यह कार्य कर रहा हूँ, और मुझे इस कार्य को करने में अत्यंत संतुष्टि प्राप्त होती है, एक तो इसके माध्यम से मैं अपने ज्ञान और अनुभव का लाभ अन्य लोगों तक पहुंचा पाता हूँ और दूसरा इसके माध्यम से मैं खुद भी अपने ज्ञान में वृद्धि करता हूँ. Thanks a Lot..... आपके इस Blog को Visit करने पर सहृदय धन्यवाद् !!!!!!

You May Also Like

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *